Budh Grah: बुध के कमजोर होने से टूट पड़ता है मुसीबतों का पहाड़, मिलने लगे ये संकेत तो जरूर करें ये 5 उपाय

Buddha: जब बुध कमजोर हो जाता है, तो इन 5 उपायों का पालन करें अगर ये संकेत दिखाई देते हैं Buddha: बुध भी व्यापार और नौकरी पर प्रभाव डालता है। यदि बुध ग्रह कुंडली में कमजोर स्थिति में है, तो नौकरी और व्यापार खराब हो सकते हैं। DNN हिंदी: ज्योतिषीय सिद्धांतों के अनुसार, प्रत्येक ग्रह हमारे जीवन पर प्रभाव डालता है।

Also read

Winter Hair Care Tips: જો શિયાળામાં તમારા પણ વાળ ખરતા હોય તો પીવો આ ડ્રીંક, There will be miraculous benefits

DNN हिंदी: ज्योतिषीय सिद्धांतों के अनुसार, प्रत्येक ग्रह हमारे जीवन पर प्रभाव डालता है। बुध ग्रह भी महत्वपूर्ण है। बुध ग्रह को कुंडली में सही स्थान पर होना चाहिए। ऐसा न होने पर कई समस्याएं आती हैं। ज्योतिष में भी कहा गया है कि बुध (Budh Grah) सही हो तो सब शुद्ध होता है। लेकिन बुध (Budh Grah) के बिगड़ने पर व्यक्ति को मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। बुध को बुद्धि, वाणिज्य और बिजनेस के लिए भी माना जाता है। ऐसे में बुध ग्रह व्यवसाय और नौकरी पर भी प्रभाव डालता है। यदि कुंडली में बुध ग्रह कमजोर हो तो व्यवसाय और नौकरी चौपट हो सकता है।

आज हम बुध ग्रह (Budh Grah) के कमजोर होने के संकेत और बुध ग्रह की स्थिति को मजबूत करने का उपाय बताएंगे।

aLSO READ

Tar Fancing Sahay yojana 2023. ikhedut પોર્ટલ

Kamjor Budh Grah: बुध ग्रह कमजोर होने का संकेत

1। बातचीत करते समय कोई हकलाता है या सही शब्द नहीं कह पाता है, तो उसका बुध ग्रह कमजोर है।

2. आपके करियर में समस्याएं हैं। किसी व्यक्ति को बार-बार बिजनेस में असफलता मिलती है और घाटा होता है। यही कारण है कि उस व्यक्ति का बुध ग्रहव कमजोर है।

3. बुध भी महिला संबंधों पर कमजोर प्रभाव डालता है। यदि मौसी, बुआ और बहन से आपके रिश्ते प्रभावित हैं तो आपका बुध ग्रह कमजोर है।

4. बाल झड़ना और नाखून टूटना भी बुध के कमजोर संकेत हैं।

5। यौन रोगियों का भी बुध ग्रह कमजोर होता है। झूठ बोलना और धोखा देना भी बुध के कमजोर संकेत हैं।

6. आपके दोस्तों के साथ अक्सर विवाद होना भी बुरा संकेत है।

7: झूठे आरोप लगाना भी बुध की कमजोरी का संकेत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *